दोस्त की बेटी को चोदा


hindi porn kahani, sex stories in hindi

हाय दोस्तों, कैसे हैं आप सभी ? मैं आशा करता हूँ कि आप सभी अच्छे होंगे | मेरा नाम पंकज है और मै कटंगी का रहने वाला हूँ | मेरी उम्र 32 साल है और अभी जॉब करता हूँ | मेरी शादी हो चुकी है और मेरी बीवी रेखा बहुत सुन्दर है | मैं दिखने में सांवला हूँ और मेरी हाईट 6 फुट है और मेरा शरीर हट्टा कट्टा है | दोस्तों मैं इस साईट के बारे में जब सुना था तब मुझे ये नहीं पता था कि इसमें सच में इसमें बहुत मजेदार कहानियां पोस्ट होती हैं लेकिन जब मेरे दोस्त ने बताया तो मैंने एक बार पढ़ के देखा तो मुझे बहुत मजा आया इसलिए मैंने तभी से सोच लिया था कि अब रोज पढूंगा | दोस्तों आज जो मैं आप लोगो के सामने अपनी कहानी पेश करने जा रहा हूँ ये मेरी पहली कहानी है और मेरे जीवन की एक सच्ची कहानी है | मैं आशा करता हूँ कि आप सभी को मेरी कहानी जरुर पसंद आयेगी और मजा भी आएगा | तो अब मैं आप लोगो का ज्यादा समय नहीं लूँगा और अपनी कहानी लिखना शुरू करता हूँ इसलिए सब अपने लंड और चूत पकड़ के बैठ जाओ |

ये घटना पिछले साल की है | मेरे घर में , मेरे मम्मी-पापा, मेरी बीवी और मेरे दो बेटे हैं | मेरी बीवी पहले जॉब करती थी लेकिन बच्चे हो जाने के बाद उसने काम छोड़ दिया | जहाँ पर मैं काम करता हूँ वहां मेरा एक दोस्त काम करता है जिसका नाम सुधीर है | वो मेरा बहुत अच्छा दोस्त है और मेरा अक्सर उसके घर आना जाना लगा रेह्त्र है | वो भी मेरे घर आया जाया करता है | हम दोनों के संबंध एक दम घरेलु हैं | मेरी बीवी और उसकी बीवी भी बहुत अच्छी दोस्त हैं | सुधीर की एक बेटी है जिसका नाम पंखुरी है और वो भी कॉलेज में है | वो दिखने में गोरी है और वो मुझसे बहुत प्यार करती है और मैं भी क्यूंकि वो जितनी सुन्दर है उतनी ही क्यूट भी है | पहले मैं सोचता था कि उसका लगाव वाला प्यार है लेकिन बाद में पता चला कि ये तो मुझसे सच मुच वाला प्यार करती है | अब वो दिखने में इतनी मस्त है कि मैं भी उसे मना नहीं कर पाया जब उसने मुझे प्रोपोस किया तो | सुधीर ने उसको एक छोटा सा सैमसंग का फ़ोन खरीद कर दिया था | तो हम दोनों की बस फ़ोन पर ही बात होती थी | हम दोनों बहुत ही कम मिलना जुलना करते थे क्यूंकि उसे इस बात का हमेशा डर रहता था कि कहीं उसके पापा उसको न देख ले वरना मुसीबत हो सकती है | मैं भी उसे इसके लिए कभी ज्यादा दबाव नहीं बनाता था क्यंकि इस बात से मैं भी घबराता था | हम दोनों की बात बस दिन में ही होती थी क्यूंकि उस समय मेरी बीवी मेरे साथ नहीं होती थी |

लेकिन रात के वक़्त मेरी बीवी मेरे साथ रहती है इसलिए मैं बिना किसी रिस्क के ये सब करता था | एक दिन हमारी बात हो रही थी और उसने मुझसे फ़ोन पर कहा कि मेरे मम्मी पापा कल एक शादी की पार्टी में जाने वाले हैं और मैं नहीं जाउंगी तो हमारे पास मौका है मैंने कहा ठीक है जब वो चले जाए तो मुझे फ़ोन कर देना मैं तुरंत ही आ जाऊंगा | अगले दिन सुबह से ही बारिश हो रही थी तो मैंने सोचा कि शायद हमारी मनोकामना पूरी नहीं हो पायेगी | लेकिन तब भी उसके घर वाले पार्टी में चले गए और जैसे ही उसका कॉल मेरे पास आया तो मैं भीगते हुए उसके घर पंहुचा और जैसे ही मैं अन्दर गया तो उसने मुझे देख कर पूछा कि तुम तो एक दम भीग गए हो टॉवल दूं क्या ? मैंने कहा अरे मेरी जान अब टॉवल की जरुँत नहीं है क्यूंकि तेरे प्यार की गर्मी से मैं सूख जाऊँगा | ये सुन कर वो हँस पड़ी और कहा कि बाते बनाना तो कोई तुमसे सीखे | उसके बाद मैंने उसे अपनी बांहों में जकड़ लिया और उसके चूतड को दबाने लगा | कुछ देर तक एक दुसरे की बांहों में रहने के बाद मैंने अपने होंठ को उसके होंठ से लगा दिए और उसके होंठ को चूसने लगा | वो भी मेरा साथ देते हुए मेरे होंठ को चूसने लगी | मैं उसके होंठ को चूसते हुए उसके दूध भी दबा रहा रहा और वो मेरे होंठ को चूसते हुए मेरे बदन को सहलाने लगी | हम दोनों ने करीब एक दुसरे के होंठ को 10 मिनट तक खूब चूसा | उसके बाद उसने मेरे शर्ट के बटन को खोल कर उतार दिया और मेरे गीले बदन पर  हाँथ फेरते हुए मेरे बदन को सहलाने लगी | उसके बाद उसने मेरे पेंट के को भी उतार दी और मैं बस अब सिर्फ एक ही कपडे में रह गया था | लेकिन उसने मेरी अंडरवियर को भी उतार कर मुझे पूरा नंगा कर दिया | उसके बाद उसने मेरे लंड को अपने हाँथ में ले कर हिलाने लगी | कुछ देर मेरे लंड को हिलाने के बाद मेरे लंड पर अपनी जीभ फेरने लगी तो मेरे मुंह से आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह की आवाज़ निकलने लगी |

वो मेरे लंड को हर तरफ से चाट चाट कर गीला कर रही थी और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए सिस्कारियां ले रहा था | उसके बाद उसने मेरे लंड को अपने मुंह में ले कर सुपाड़े को चाटने और चूसने लगी और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए उसके बालो को सँवारने लगा | फिर वो मेरे लंड को अपने मुंह में पूरा ले कर चूसने लगी और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए सिस्कारियां लेने रहा था | उसने मेरे लंड को 15 मिनट तक खूब चूसा और उसके बाद मेरे गोटों को अपने मुंह में ले कर आम की तरह चूसने लगी और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए उसके मुंह पर अपना लंड पटक रहा था | उसके बाद मैंने उसे खड़ा किया और उसके टॉप को उतार दिया और ब्रा के ऊपर से ही उसके बड़े दूध को दबाने लगा तो उसके मुंह से भी आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह की सिस्कारियां निकलने लगी | फिर मैंने उसके ब्रा को ही उतार कर उसके दोनों दूध को अपने मुंह में ले कर चूसने लगा और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए सिस्कारियां लेने लगी | मैं उसके दोनों दूध को अपने मुंह में ले कर जोर जोर से दबाते हुए चूस रहा था और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए मेरे सिर पर हाँथ फेर रही थी | उसके बाद मैंने उसके जीन्स को भी उतार दिया और उसकी पेंटी भी उतार कर उसे भी नंगी कर दिया |

फिर मैंने उसे बिस्तर पर लेटा दिया और उसकी दोनों टांगो को खोल कर उसकी चूत को चांटे लगा और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए मचलने लगी | मैं उसकी चूत को चाटते हुए चूत के दाने को भी होंठ में दबा कर चूस रहा था और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए जोर जोर से सिस्कारियां ले रही थी | मिअने उसकी चूत को 10 मिनट तक चाटा और फिर अपने लंड को उसकी चूत में रख कर सहलाने लगा और फिर एक ही शॉट में अन्दर डाल दिया और चोदने लगा और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए चुदाई के मजे लेने लगी | फिर मैंने अपनी चुदाई की रफ़्तार बढ़ा दिया और जोर जोर से उसकी चूत को चोदने लगा और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए अपनी गांड उचका उचका कर चुदवा रही थी | फिर मैंने उसे कुतिया बनाया और उसके पीछे जा कर एक बार और चूत चाटा और चोदने लगा लंड डाल कर और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए अपनी गांड आगे पीछे करते हुए चुदाई में साथ दे रही थी | मैंने उसे काफी देर तक चोदा और आखिर में उसकी गांड के ऊपर ही अपना वीर्य छोड़ दिया |


error:

Online porn video at mobile phone


story chudai kedada dadi sex videosaas ki chuchiboys hostel sexpapa ke samne maa ko chodasec kahaniwww bhabhi ki chudai storyjija sali kahanimakan malkin aunty ki chudaibadi gand wali auntysasur se chudai ki storyladki ki gand ki photobahan bhai sex kahanimosi ki chudai kahanihindi sey kahanisexstoreydesi chudai ladkichodne ki kahani hindi meindian suhagrat bfrandi ki chudai story hindiwww didi ki chudai ki kahani compolice sex storieschoot phat gayiwww bhojpuri chudai commeri randi maagay sex story in marathimaa or beta sex storyhindi hot khaniyadesi swxindian choot ki chudaischool teacher ki chudai ki kahanisexy didi ki chudaichudai story 2016teacher student ki chudaibhabhi ki chut or gand mariwww bhabi ki chodaihot ladki sexcollege sex storiesantarvasna storexnxx com indian sexsexyhindi storysreal sexy story in hindisexy chudai ki kahani hindi mebehan ki chootjija sali xxxhotel me chudaibhabhi ko choda comhindi sex antiindian porn sex storiesromantic sex story in hindibhabhi ke boobssexy hot chudai ki kahanisex stories with doctorlatest sex kahaniyakahani jabardasti chudai kibahurani ki chudaichut ki kahanihostel me chudai ki kahanichudai bhabhi ki hindinaukrani sex storysexy story marathi newdoodh storiesboor ki chodai ki kahanihindi land chut storydesi bhabhi chudaimastram hindi story onlineaunty stories sexgand chut picschoti si bhoolindian aunty ko chodachudai long story